*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Friday, November 15, 2019

यस मेडम-दो छक्के

यस करने में यश भरा ,बहुत है यस में दम
पत्नी से हरदम कहो ,यस यस यस  मेडम
यस यस यस मेडम ,ख़ुशी और यश बरसेगा
प्यार मिले पत्नी का ,और जीवन सरसेगा    
कह घोटू पत्नी संग यदि है ख़ुशी चाखनी
मख्खन मारो उसे ,मिलेगी दाल माखनी

पत्नी पूजन से सदा ,मिले प्रसाद अनूप
करो प्रशंसा रूप की ,गरम मिलेगा सूप
गरम मिलेगा सूप ,सराहो उनका जलवा
पाओगे तुम गरम गरम गाजर का हलवा
मिले गुलाब जामुन ,गुलाबी गाल बताओ
कह रसवंती अधर ,यार रसगुल्ले खाओ

घोटू 

No comments: