*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Friday, September 7, 2018

वादा तो निभाया
           वादा तो निभाया 

मैडमजी  ने वोट मांगे ,दे के सबको ये वचन ,
      बिजली की और पानी की वो व्यवस्था करवाएंगी 
और अगर  वो चुन के आई ,उनने था वादा किया ,
        अपने हर एक काम मे वो,'ट्रांसपरेन्सी 'लाएंगी    
जीत करके इलेक्शन को,वो मिनिस्टर बन गयी ,
         वादा था उनने निभाया  , एक   नए अंदाज में 
'ट्रांसपरेन्सी 'का था वादा उसने जो सबसे  किया ,
          'ट्रांसपरेन्सी 'ले के आई ,अपने वो   लिबास में 
इस कदर  के पारदर्शी वस्त्र थे धारण किये ,
         देख  कर उसका  खुलापन  ,गिरी सब पर बिजलियाँ 
लोग मारे शर्म के सब ,पानी पानी हो गए,
            बिजली और पानी का  वादा ,इस तरह पूरा किया 

मदन मोहन बाहेती'घोटू'

No comments: