*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Tuesday, September 16, 2014

चुम्बन

              चुम्बन

कोई बच्चा अगर तुम्हे लगता है प्यारा ,
      तो गोदी में लेकर उसके गाल चूमना
कोई अच्छा लिखता उसकी कलम चूमना ,
    अच्छा कोई पकाता   उसके हाथ चूमना
जो मेहनत करते है चूमे उन्हें सफलता ,
    ये सबके सब ,होते है एकतरफा  चुम्बन
किन्तु मिलन में ,प्रेमीद्वय के लब जब मिलते,
   पागल से रसपान करें,वो सच्चा चुम्बन

घोटू 

No comments: