*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Tuesday, May 13, 2014

चुम्बक

            चुम्बक

औरतें वजन कम करने, को करती डाइटिंग रहती ,
कमर उनकी रहे कम इसलिए वर्जिश वो करती है
अगर फिगर गया जो बढ़ ,तो घट जायेगा अट्रेक्शन ,
इसलिए मिठाई,घी ,तेल सब खाने से  डरती  है
बड़ा सीना,बड़े हो हिप्प्स ,सब छत्तीस इंची हो,
कमर चौबीस इंची कम,बड़ी कमसिन नज़र आये
छिपाया करती तन को इस तरह के पहन कर कपडे ,
बदन ज्यादा से ज्यादा खुल्ला हो ,सब को नज़र आये
अदा से चलती कुछ  ऐसे ,थिरकते अंग हो सारे ,
और फिर चाँद सा सुन्दर ,हसीं चेहरा हो मुस्काता
बदन सारा है चुम्बक सा ,है इसमें इतना 'अट्रेक्शन'
आदमी सख्त कितना भी हो,लोहे सा खिंचा  आता

घोटू  

No comments: