*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Tuesday, May 6, 2014

अबकी बार मोदी सरकार

अबकी बार मोदी सरकार 

तस्वीर बदलने वाली है ,तकदीर संवरने वाली है ,
दिल्ली के सिंहासन पर ,छवि बेदाग उतरने वाली है
दूर होगी अब बदहाली ,चहुँदिश फैलेगी ख़ुशहाली ,
भारत माँ के मस्तक पर ,नई किरण बिखरने वाली है
क्योंकि सरकार बी.जे.पी. की मोदी की आने वाली है ।

भ्रष्टाचार मुक्त शासन सपना ,सारा देश लगे जिसे घर अपना
मुख सुख से जिसने मोड़ लिया घर-बार कभी का छोड़ दिया
देश सेवा ही जिसका धर्म-कर्म हिंदुस्तान की जाने जो मर्म
महानायक वह देश पुजारी राष्ट्रद्रोहियों की गयी मति है मारी
जन पीड़ा से जो पीड़ित है जिसका सृजन लिए हृदय व्यथित है
शख़्सियत बेजोड़ उभरने वाली है ऐसी सरकार बहुरने वाली है ।

सारा अमला विपक्ष का पीछे पड़ा फिर भी कादा में कमल खिला
आसमान झुकाने की कूबत जिसमें जनता को दिखती सीरत उसमें
लोक लुभावन व्यक्तित्व लगे अक्षर-अक्षर मनभावन अस्तित्व लगे
भाषा शैली बोली आली-आली जिसकी चाल-ढाल है गजब निराली
सारी जनता जिसकी कायल है जिसकी प्रसिद्धि से दुश्मन घायल हैं
उस आकर्षण में दुनिया बंधने वाली है सरकार मोदी की आने वाली है ।

हर फन में माहिर मोदी जी हैं हर गुण में है पारंगत
ज्ञानी पुरुष ,अग्र श्रेष्ठ जनों की मिली है जिसको संगत
जिसमें देश के गौरव की पीड़ा स्वर्णिम युग लाने की बीड़ा
कितने अपमानों का घूँट पिया ना प्रण पथ से खुद को अलग किया
जन सैलाब उमड़ता जिसके लिए हर दिल अज़ीज है जो सबका
तपकर सोना निखरने वाला है देश सोने की चिड़िया बनने वाला है ।

कमल का बटन दबाकर देखो जाँच-परख कर इस बार भी देखो
अफ़वाहों पर अमल करो ना मतदाता दिल से सोचो ना
साईकिल सवारी,हाथ का पंजा ,हाथी , आप हुई बीमार
अबकी बार मोदी सरकार गली-गली नारा बुलंद है यार ।

                                                                                     शैल सिंह


No comments: