*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Wednesday, April 23, 2014

नरेंदर मोदी जैसा हो

            नरेंदर मोदी जैसा हो

न आगे कोई ना पीछे,   न बेटी है न बेटा है
और करने देश की सेवा ,कमर कस के जो  बैठा है
लगे भारत का हर एक शख्स ही परिवार अपना है
बने सोने की चिड़िया देश फिर,जिसका ये सपना है
तरक्की भाईचारा हो,अमन हर  ओर  हो जाए
हमारा देश फिर से विश्व में सिरमौर हो जाए
विपुल भण्डार हो धन का,भरे भण्डार में अन्न हो
कमी ना बिजली ,पानी की,सभी उपलब्ध साधन हो
उगे फसलें हो खुशहाली ,बरसता खूब पैसा  हो
जो नेता  कर ये दिखलाये,नरेंदर मोदी जैसा हो

मदन मोहन बाहेती'घोटू'

No comments: