*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Saturday, March 29, 2014

रिजर्वेशन -स्वर्ग का

               रिजर्वेशन -स्वर्ग का

बोला पंडित ,स्वर्ग में ,बहलायेगी मन अप्सरा ,
और नरक की यातना से,मुक्ती  भी पा लीजिये
चढ़ा  मंदिर में चढ़ावा,  ब्राह्मणो को दान दे,
रिजर्वेशन ,स्वर्ग का ,खुल्ला है ,करवा लीजिये
हमने पंडितजी से बोला ,इतनी जल्दी ना हमें ,
जिंदगी का ले रहे सुख ,हम हैं खुश इस हाल में
आएगा  जब वक़्त वो,पैसा तो ज्यादा लगेगा ,
रिजर्वेशन  स्वर्ग का ,मिल जायेगा 'तत्काल' में   

घोटू

No comments: