*साहित्य प्रेमियों का एक संयुक्त संघ...साहित्य पुष्पों की खुशबू फैलाता हुआ*...."आप अपनी रचना मेल करे अपनी एक तस्वीर और संक्षिप्त परिचय के साथ या इस संघ से जुड़ कर खुद रचना प्रकाशित करने के लिए हमे मेल से सूचित करे" at contact@sahityapremisangh.com पर.....हम आपको सदस्यता लिंक भेज देंगे.....*शुद्ध साहित्य का सदा स्वागत है*.....

Followers

Tuesday, August 30, 2011

अनशन के बाद

अनशन के बाद
-------------------

लालूजी ने संसद में भाषण दिया
और बतलाया कि किस तरह आक्रोश में,
जनता ने एक एम.पी.को ट्रेन से उतार दिया
सत्ताधारियों!यह तो एक ट्रेलर था,
पर इससे आप जनता के मूड को ताड़ सकते है
भष्टाचार नहीं मिटाया,
तो आज तो ट्रेन से उतारा,
कल सत्ता कि कुर्सी से उखाड़ सकते है
   २
अन्ना के अनशन के बाद,
एक जेब कतरे ने,
अपने ढंग से विद्रोह जतलाया
कि उसने तीन सांसदों कि जेब काट,
उन्हें अपना निशाना बनाया
उसने संकल्प किया है,
कि जिनने जनता कि जेब काटी है
उनसे शांतिपूर्ण ढंग से बदला लूँगा
अब सिर्फ नेताओं की ही जेब काटूँगा

मदन मोहन बहेती 'घोटू'

No comments: